Tag: shayri

घूमने गए थे मोहब्बत की गली में

मोहब्बत की गली में घूमने गए थे मोहब्बत की गली में , लौटकर देखा तो सीने में दिल नहीं था।।। मुझसे मिलने आये हो आप मुझसे मिलने आये हो …. ….. बैठो….. मै खुद को बुलाकर लाता हूँ……. कोई ऐसी सुबह मिले…Read More »

उदास मौसम को भी हसीन बना देगी

जब घर से बेनकाब निकलती वो उदास मौसम को भी हसीन बना देगी , जब घर से बेनकाब निकलती होगी।।।। उसके बिखरे हुए बाल जब उसके बिखरे हुए बाल उसके मासूम चेहरे पर आ जाती हैं , कसम से यारों वह और…Read More »