Tag: sad love story in hindi

KASH WO SIRF MERI HOTI

YE KHUDA WO MERI HOTI ये खुदा, काश वो सिर्फ मेरी होती ,, या फिर वो मुझे, मेरी ज़िन्दगी में मिली ही ना होती … USE BHI ISHQ HAI खबर पक्की है “बॉस” … उसे भी इश्क है ,, क्या ? सचमुच…Read More »

kaise gujar rahi hai zindgi

कैसे गुजर रही है ज़िन्दगी कैसे गुजर रही है ज़िन्दगी, ये हर आते जाते लोग पूछ रहे हैं ,, मगर वो तेरे साथ दिखाई नहीं दे रही, ये कोई नहीं पूछता है … Bas halka sa muskura do to अरे सुनो तो,…Read More »

ज़िक्र तुम्हारा ही चल रहा था

यूँ ही नहीं मुस्कुराए हम ज़िक्र तुम्हारा ही चल रहा था मन … यूँ ही नहीं मुस्कुराए हम… दिल में ही रहो दिल में ही रहो मन … बाहर गर्मी बहुत ज्यादा है। तुम सा हसीन इस जमाने मे नहीं तुम सा…Read More »

इश्क़ एक खूबसूरत एहसास है

इस एहसास को समेटना चाहता इश्क़ एक खूबसूरत एहसास है “मन” , और मैं इस एहसास को समेटना चाहता हूँ। ऐ “मन” तू क्यों रोता ऐ “मन” तू क्यों रोता है … ये दुनिया है , यहाँ तो हरपल ऐसा ही होता…Read More »

चुपचाप गुज़ार देगें तेरे बिना ये ज़िन्दगी

तेरे बिना भी ये ज़िन्दगी चुपचाप गुज़ार देगें तेरे बिना भी ये ज़िन्दगी , लोगो को बता देगें , मोहब्बत ऐसे भी होती है ।।।। फिज़ाओ में घोल दी इतनी मोहब्बत तुम ही बताओ हम किधर जाए— इन फिज़ाओ में घोल दी…Read More »

पिघल जाता हूँ तेरी तस्वीर देख कर

पिघल जाता तस्वीर देख कर पिघल सा जाता हूँ , तेरी तस्वीर देख कर , जरा छू कर बता ना , कहीं मैं मोम का तो नहीं । बहुत देर तक कोई बात ना हो सामने वाले की तरफ से अगर बहुत…Read More »

तुम कहती थी हर शाम तुम्हारा इन्तजार करेंगे

हर शाम तुम्हारा इन्तजार करेंगे तुम कहती थी कि हर शाम तुम्हारा इन्तजार करेंगे , अब क्या हुआ तुम बदल गई या फिर तुम्हारे शहर में शाम ही नहीं होती। यह दिल नहीं धड़कता जाने वाले चले गए , अब किसी और…Read More »

फुर्सत निकाल कर आओ कभी मेरी महफ़िल में

आओ कभी मेरी महफ़िल में फुर्सत निकाल कर आओ कभी मेरी महफ़िल में ,, लौटते वक्त दिल नहीं पाओगे अपने सीने में …. मोहब्बत को बीच मे लाने की बोल दिया होता तुम्हे दर्द ही देना है , ऐ जिंदगी …. मोहब्बत…Read More »

दर्द भरी प्यार कि एक कहानी

दर्द भरी प्यार कि एक कहानी सुनो । कौन ? मैं ! मैं कौन ? अच्छ ! अब मेरी आवाज भी नहीं पहचानते ? तुम ही तो थे , जो कालेज तक एक सिक्युरिटी गार्ड की तरह चुपचाप मुझे छोड़ने जाते थे।…Read More »

मैंने अपने आखो को बहुत समझाया

जब भी उसको देखता हूँ मैंने अपने आखो को बहुत समझाया कि तू इतना बहता क्यों हैं , वह बोला क्या करु जब भी उसको देखता हूँ तब खुद ही निकल जाती हैं। मैंने एक शख्स को चुना 7 अरब लोग इस…Read More »