Chupa kar nazare kaha ja rahi

Chupa kar nazare kaha ja rahi

Chupa kar nazare छुपा कर नजरे कहाँ जा रही ,, तुम्हे देखने के लिए सारी गली तरस रही …। Apne ap me ek mahfil hu मुझे अकेला समझने की भूल कतई न करना ,, मैं अपने आप में एक हँसता हुआ महफिल हूँ ।। Dard jayada badh jata h कभी कभी दर्द इतना ज्यादा बढ़ जाता हैं ,, कि आंखों से सिर्फ आंसू ही निकलते हैं …। मेरी जिंदगी तुम बिन बिलकुल अधूरी सुनों “मन” मेरी जिंदगी तुम बिन बिलकुल अधूरी हैं ,, यह तुम क्यों नहीं समझती हैं। उन्हें…

Read More

Tere naam k sur mai gungunati

Tere naam k sur mai gungunati

tere naam ke soor mai gungunati hu तेरे नाम के सुर , मैं गुनगुनाती हू … तू मेरे साथ रहे या न रहे ,, अपनी इश्क दुनिया को सुनाती है … ”मन” कि शरारतों को देखकर ”मन” कि शरारतों को देखकर , मैं बेहाल हो रही ,, मखमली गालो पर रखे होठों को लाल कर रही … तुम्हे सजने सवरने कि जरुरत नहीं सच कहूँ तो तुम्हे सजने सवरने कि जरुरत नहीं ”मन” ,, तुम ऐसे हि मुझे बहुत खूबसूरत लगती हो … तुम्हारी हर एक एक अदा सुनो ”मन”…

Read More

ज़िक्र तुम्हारा ही चल रहा था

zikra tumhara hi chal raha | Love Romantic Sad bewafa Shayari in Hindi

यूँ ही नहीं मुस्कुराए हम ज़िक्र तुम्हारा ही चल रहा था मन … यूँ ही नहीं मुस्कुराए हम… दिल में ही रहो दिल में ही रहो मन … बाहर गर्मी बहुत ज्यादा है। तुम सा हसीन इस जमाने मे नहीं तुम सा हसीन इस जमाने मे कुछ नहीं होगा ! बिना मिले ही ये हाल हैं…मिलोगे तो न जाने क्या हाल होगा … चुपचाप खामोश हो गया नसीब ने पूछा…बोल क्या चाहिए तूझे , मैंने तुम्हे क्या मांग ली , चुपचाप खामोश हो गया ..!! गजब है मुहब्बत बड़ा गजब…

Read More

इश्क़ एक खूबसूरत एहसास है

इश्क़ एक खूबसूरत एहसास है

इस एहसास को समेटना चाहता इश्क़ एक खूबसूरत एहसास है “मन” , और मैं इस एहसास को समेटना चाहता हूँ। ऐ “मन” तू क्यों रोता ऐ “मन” तू क्यों रोता है … ये दुनिया है , यहाँ तो हरपल ऐसा ही होता है… वो बातें करना चाहते मेरी आँखो ने पकड़ा है, उन्हे कई दफा रंगे हाथ , वो मुझसे बातें करना तो चाहते है , मगर घबराते बहुत है … दिल के ज्ख्मो पर दिल के ज्ख्मो पर किसी की नज़र नहीं !!! हम मर चुके हैं तुझ पर,…

Read More

हटा लो अपनी जुल्फों को मासूम चेहरे से

हटा लो अपनी जुल्फों को मासूम चेहरे से

चाँद ज्यादा हसीन लगता हटा लो अपनी जुल्फों को मासूम चेहरे पर से “ये मेरी मन” … चाँद खुले आसमान में ही ज्यादा हसीन लगता है …।।। इंतजार में घंटो खड़ा सुंदरता की प्रतियोगिता पूरे शबाब पे है … आज एक चाँद दूसरे चाँद के इंतजार में घंटो खड़ा जो है । ज़िद उसकी चाँद देखने की ज़िद उसकी थी,जल्दी से चाँद देखने की ,, मैंने झट से उसके सामने आईना रख दिया …. हँसते हुए बोल रही थी वो बार बार हँसते हुए बोल रही थी , तुम चले…

Read More

मीठे लोगों से मिलकर मैंने जाना

मीठे लोगों से मिलकर मैंने जाना

कड़वे लोग अक्सर सच्चे होते मीठे लोगों से मिलकर मैंने जाना … तीखे कड़वे लोग अक्सर सच्चे होते हैं…!! वक़्त से पहले कई हादसों से लडा वक़्त से पहले कई हादसों से लडा हूं … मै आपनी उम्र से कई साल बड़ा हूं… ‘मर्द जात’ तुझे तरक्की मुबारक औरत से लेके तुम तो बच्ची तक आ गए , ‘मर्द जात’ तुझे तरक्की मुबारक हो । खुद अपनी तलाश अगर , मगर और काश मैं हूँ ,.. मैं खुद अपनी तलाश में हूँ … दुःख देने वाला कभी सुखी नहीं दुःख…

Read More

शाहजहाँ मुग़ल शहंशाह

शाहजहाँ मुग़ल शहंशाह

शाहजहाँ पांचवे मुग़ल शहंशाह था। शाह जहाँ अपनी न्यायप्रियता और वैभवविलास के कारण अपने काल में बड़े लोकप्रिय रहे। किन्तु इतिहास में उनका नाम केवल इस कारण नहीं लिया जाता। शाहजहाँ का नाम एक ऐसे आशिक के तौर पर लिया जाता है जिसने अपनी बेग़म मुमताज़ बेगम के लिये विश्व की सबसे ख़ूबसूरत इमारत ताज महल बनाने का यत्न किया। सम्राट जहाँगीर के मौत के बाद, छोटी उम्र में ही उन्हें मुगल सिंहासन के उत्तराधिकारी के रूप में चुन लिया गया था। 1627 में अपने पिता की मृत्यु होने के…

Read More

अपनी सोच को थोड़ा बदल कर देखो

अपनी सोच को थोड़ा बदल कर देखो

मुझसे भी बुरे हैं लोग मेरे बारे में अपनी सोच को थोड़ा बदल कर देखो । मुझसे भी बुरे हैं लोग , कभी घर से बाहर निकल कर देखो !!! मैं बहुत अच्छा हूँ” “पहले मुझे लगता था कि मैं अच्छा हूँ , फिर मैंने अपने आप को zoom करके देखा , तो फिर मुझे पता चला कि मैं बहुत अच्छा हूँ”  !! लूट लो I love u बोलकर 100% डिस्काउंट चल रहा है मेरी मोहब्बत पर … लूट लो I love u बोलकर किसी और की होने से पहले…

Read More

उसने कसम खाई थी बात नहीं करने की

उसने कसम खाई थी बात नहीं करने की

ढेर सारी बातें कर रही थी उसने कसम खाई थी कभी बात नहीं करने की । मगर पिछली रात ख्वाबो में ढेर सारी बातें कर रही थी । चांद भी झाकता रहता चांद भी झाकता रहता उसे , उसकी खिड़कियों से । गुस्ताख चांद भी उतर आया बदमाशियों पे । “होंठों” पर हल्की सी हँसी छिड़क कर “होंठों” पर हल्की सी हँसी , उसने खुद को औरों से “खूबसूरत” बना लिया … उसकी आँखों पर काजल की लकीरें उसकी आँखों पर काजल की लकीरें देखकर , पहली दफ़ा ये समझा…

Read More

मुझे नहीं पता मेरी आँखों को किसकी तलाश

मुझे नहीं पता मेरी आँखों को किसकी तलाश

मेरी नजरें थम सी जाती मुझे नहीं पता कि मेरी आँखों को किसकी तलाश है , बस तुम्हे देखते है तो मेरी नजरें थम सी जाती है !! अपने हाथों में हाथ लिए वो अपने हाथों में हाथ लिए “चलते” रहे मेरा …… उन्हें “रात” का डर था … मेरा डर था “सवेरा”… अपने दिल में बन्द कर लूँ मन करता , तुम्हें अपने दिल में बन्द कर लूँ । और चाभी समुद्र में फेंक दूँ … !!! तेरा मुस्कुराना भी मुसीबत है तेरा मुस्कुराना भी मुसीबत है , मैं…

Read More