Tag: hindi love story

क्या लिखूँ तेरी सूरत की तारीफ़ में

तेरी अदाएँ देख देख कर क्या लिखूँ तेरी सूरत की तारीफ़ में ए मेरे ”मन” ,सारे अल्फाज खत्म हो गए मेरे , तेरी अदाएँ देख देख कर … ईद का सारा जिम्मा ईद का सारा जिम्मा, अब चाँद पर आ ठहरा है…Read More »

आज अजीब किस्सा देखा हमने

एक शख्स ने मोहब्बत कर लिया आज अजीब किस्सा देखा हमने खुदकुशी का ।।। एक शख्स ने ज़िन्दगी से तंग आकर मोहब्बत कर लिया ।।। खिलखिलाऊँगी तुम्हारे सम्मुख तुम हृदय से पुकारना मुझे, मैं वहाँ भी निकल कर , खिलखिलाऊँगी तुम्हारे सम्मुख…Read More »

मुझे बड़ी अच्छी लगी

चार दिन इश्क़ मोहब्बत मुझे बड़ी अच्छी लगी उसकी ये अदा..!!! चार दिन इश्क़ मोहब्बत और फिर अलविदा…!!! प्यार वो है जो देखते देखते हो प्यार वो नहीं , जो कोई प्लान बनकर करता है .. प्यार वो है… जो देखते देखते…Read More »

अपने ख्वाबों में जिसने भी तुम्हें देखा

आँख खुलते ही ढूँढने निकला अपने ख्वाबों में जिसने भी तुम्हें देखा होगा … यकीनन आँख खुलते ही वो, तुझे ढूँढने निकला होगा… उनके मीठे लफ्ज जब बरसते उनके मीठे लफ्ज जब बरसते है , बनकर बूँदे … यकीनन मैसम कोई भी…Read More »

अगर तुम पूछो अपनी अहमियत

तुम्हें अपने पास रख लूं अगर तुम पूछो अपनी अहमियत मुझसे , तो सुनो मन ,, सिर्फ तुम्हें अपने पास रख लूं , तो मैं सबसे अमीर हो जाऊँ ।। अचानक चौँक उठे “नींद’ से हम अचानक चौँक उठे “नींद’ से हम……Read More »

किसी तरह तुम तक पहुंच ही जाता

ठिकाना मालूम है इस दिल को किसी भी तरह, तुम तक पहुंच ही जाता हैं यह दिल ,, चाहे इसे जितना भी बहलाऊं…ठिकाना अपना मालूम है, जो इस दिल को … कैसे एक एक पल बीतता है सुनो “मन”, तुम पूछ लेना…Read More »

बारिश की तरह कभी तुम भी

तुम्हें महसूस करना चाहता बारिश की तरह कभी तुम भी बरस जाओ मुझ पर … मैं बूँद-बूँद तुम्हें महसूस करना चाहता हूँ । ये बारिश इस तरह मत बरस ये बारिश इस तरह मत बरस, कि वह आ न सकें , उनके…Read More »

वो अक्सर पूछा करती थी

मैं अक्सर कहा करता था वो अक्सर पूछा करती थी, क्या कर रहे हो ??? मैं अक्सर कहा करता था कुछ भी नही , सिवाय तुम्हें याद करने के … जहाँ हम अक्सर मिला करते अक्सर , घंटो ठहर कर देखता हूँ…Read More »

अगर इशारों में ही बातें करनी थी

अपनी आँखों को सजाते अगर इशारों में ही बातें करनी थी , तो पहले बताते । हम अपनी शायरी को नही, अपनी आँखों को सजाते !!! जब भी मैं टूटता हूँ जब भी मैं टूटता हूँ, तुम्हे ही ढूंढता हूँ । कभी…Read More »

उन झुकी निगाहों से भी चोट लगता

देखकर भी अनदेखा कर देता उन झुकी निगाहों से भी चोट लगता है “मन” !!! जो हर बार देखकर भी अनदेखा कर देता है “मन” ।।। यूं ही चलते चलते यूं ही चलते चलते जो आवाज दी थी न तुमने… कदमों की…Read More »