क्या लिखूँ तेरी सूरत की तारीफ़ में

kya likhe teri tarif me

तेरी अदाएँ देख देख कर क्या लिखूँ तेरी सूरत की तारीफ़ में ए मेरे ”मन” ,सारे अल्फाज खत्म हो गए मेरे , तेरी अदाएँ देख देख कर … ईद का सारा जिम्मा ईद का सारा जिम्मा, अब चाँद पर आ ठहरा है ,, शहर भर की निगाहें, तेरी छत पर टिका है …!!! किसी ने दरवाज़ खटखटाया मेरा आज फिर किसी ने दरवाज़ खटखटाया मेरा,, जरा ध्यान से देखना, अगर इश्क़ हो तो कहना खुदा के लिये माफ़ करे …!!! बे-वजह खामोश नही हुए बे-वजह खामोश नही हुए है वो…

Read More

मना कर दिया उन्हें

मना कर दिया उन्हें

दिल कुचलकर तोड़ दिया मना कर दिया उन्हें, न आओं मेरे ख्वाबों में , इश्क़ हमने छोड़ दिया और अपना दिल कुचलकर तोड़ दिया । एक चांद था अकेला था मैं, किसे आवाज देता ,, एक चांद था, वो भी दूर खड़ा था । हाँ मोहब्बत है तुमसे सुनो मन… ज्यादा कुछ बोलने की ज़रूरत नहीं है ,, सिर्फ इतना कह दो, हाँ मोहब्बत है तुमसे … कहाँ खोएं हो “मन” इश्क़ हो, और सुकून भी हो ,, कहाँ खोएं हो “मन” तुम होश में तो हो ।।। चाँद तुम…

Read More

इश्क़ एक खूबसूरत एहसास है

इश्क़ एक खूबसूरत एहसास है

इस एहसास को समेटना चाहता इश्क़ एक खूबसूरत एहसास है “मन” , और मैं इस एहसास को समेटना चाहता हूँ। ऐ “मन” तू क्यों रोता ऐ “मन” तू क्यों रोता है … ये दुनिया है , यहाँ तो हरपल ऐसा ही होता है… वो बातें करना चाहते मेरी आँखो ने पकड़ा है, उन्हे कई दफा रंगे हाथ , वो मुझसे बातें करना तो चाहते है , मगर घबराते बहुत है … दिल के ज्ख्मो पर दिल के ज्ख्मो पर किसी की नज़र नहीं !!! हम मर चुके हैं तुझ पर,…

Read More

मीठा-मीठा सा था इश्क़ हमारा

mitha mitha sa ishq

आपके ख्वाब व आपकी मुस्कान मीठा-मीठा सा था इश्क़ हमारा और.. बीच-बीच में आपके ख्वाब व आपकी मुस्कान आती रही …!!! तुम्हारे होठों की लिपीस्टीक मैं तुम्हारे होठों की लिपीस्टीक खराब कर सकता हूँ । पर यकिन करो, तुम्हारे आखों का काजल कभी बहने नहीं दूंगा । अपनी शामों में हिस्सा अपनी शामों में हिस्सा, फिर किसी को ना दिया , इश्क़ तेरे बिना भी, मैनें इश्क़ सिर्फ तुझसे ही किया !!! आप अपने होंठो मे रखती सारी शहर ढूंढती है जिसे डिब्बे मे । वो मीठा तो आप अपने…

Read More

बस इतना-सा ही बाकी रह गया

Bas itna sa hi baki rah gaya | Love Romantic Sad bewafa Shayari in Hindi

वो सामने तो होते हैं बस इतना-सा ही बाकी रह गया हैं,,ताल्लुकात उनसे… वो सामने तो होते हैं मगर, होती नहीं बाते उनसे… तेरे बिन अधूरे है हम नहीं मालुम मुझको फर्क मोहब्बत और जरुरत में … सिर्फ इतना मालुम है , कि तेरे बिन अधूरे है हम … किस कदर आता है प्यार तुझपे मत पूछ किस कदर आता है प्यार तुझपे … मन करता है होठो पर होंठ रखकर , पी जाऊँ सांस तेरी … उसकी सूरत पर नज़र उसकी सूरत पर नज़र जाती भी तो कैसे ,…

Read More

चुपचाप गुज़ार देगें तेरे बिना ये ज़िन्दगी

चुपचाप गुज़ार देगें तेरे बिना ये ज़िन्दगी

तेरे बिना भी ये ज़िन्दगी चुपचाप गुज़ार देगें तेरे बिना भी ये ज़िन्दगी , लोगो को बता देगें , मोहब्बत ऐसे भी होती है ।।।। फिज़ाओ में घोल दी इतनी मोहब्बत तुम ही बताओ हम किधर जाए— इन फिज़ाओ में घोल दी इतनी मोहब्बत ,, कहो पी के मर जाए— !!!! जितना रुठना हैं पगली उतना रुठ लो जितना रुठना हैं पगली उतना रुठ लो , जिस दिन हम रुठ गए तो तू जीना ही भूल जाएंगी। तुम उसके बिना अधूरे हो ये मौसम ये फिजाए सभी चिल्ला चिल्ला कर…

Read More

तेरे सिवा मेरे दिल को कुछ नहीं भाता

तेरे सिवा मेरे दिल को कुछ नहीं भाता

तेरे सिवा कुछ नहीं आता सुनो , तेरे सिवा मेरे दिल को कुछ नहीं भाता , अनपढ़ सा रहता हूँ , तेरे सिवा कुछ नहीं आता। आज का ज्ञान है किसी को इतना मत चाहो ,, कि वो तुम्हें गिरा हुआ ही समझ ले …. l मेरी खोज लाजवाब है तेरी गली का सफर आज भी याद है मुझे मैं कोई वैज्ञानिक नही था , पर मेरी खोज लाजवाब है… क्या गज़ब रँग चढ़ा है मेहदी का उसने कहा क्या गज़ब रँग चढ़ा है मेहदी का ,,, हमने कहा हज़ारों…

Read More

मोहब्बत करने से फुरसत नहीं मिली

मोहब्बत करने से फुरसत नहीं मिली

हम नफरत करके बताते मोहब्बत करने से फुरसत नहीं मिली ,, वरना हम नफरत करके बताते , नफरत किसको कहते_है !!! हर याद में कितना दर्द होता जब आपकी याद आती है तो लगता है , हर पत्थर पर लिखू “I MISS U” और हर वो पत्थर तुम्हे मारू , क्यों कि ? तुम्हे भी पता चले कि हर याद में कितना दर्द होता है| मोहब्बत के संसार में तू कर shopping कभी मेरे इश्क के बाजार में …. 100% Discount में दिल देगे ,, तुझे मोहब्बत के संसार में…

Read More

नहीं खोना चाहता हूँ आपको

नहीं खोना चाहता हूँ आपको

लैाट अओ किसी बहाने नहीं खोना चाहता हूँ आपको .. इसलिये पाने की कोई ज़िद भी नहीं… हो सके तो लैाट अओ किसी बहाने से। फिर से मिलने का वादा फिर से मिलने का वादा तो उनके मुँह से निकल ही गया , जब हमने जगह पुछी तो कहने लगे ख़्वाबों में आते थे आते रहेंगे..! वहीं मेरे रोग की दर्द है वहीं मेरे रोग की दर्द है , वहीं मेरे रोग की दवा है , डाक्टर भी समझ न पाया आखिर मुझे हुआ क्या है। तुझे हक है अपनी…

Read More

कुछ भी खास नहीं होता इन दिनों

कुछ भी खास नहीं होता इन दिनों

वो पास नही है इन दिनों अब कुछ भी खास नहीं होता इन दिनों ..!! वो जो पास नही है इन दिनों….! आँसू बहाऊँ,पाँव पटकूँ कितना अच्छा होता , बचपन के खिलौने सा कहीं छुपा लूँ तुम्हे , आँसू बहाऊँ,पाँव पटकूँ और पा लूँ तुम्हें । मुझसे मोहब्बत कर लो चल रहे हैं जमाने में रिश्वत के सिलसिले … तुम भी कुछ ले दे कर , मुझसे मोहब्बत कर लो…. दिल दर्द सहता हैं तड़प उसी के जिस्मो पर सजता है ‘मन’ जिसकी आँखों में इश्क़ रोता हैं !! और…

Read More

Yaad Shayari ;- जब जब लोगो को अपने महबूब कि याद आती , तब तब ये घर बार , महफ़िल वह्फिल , शानों शौकत सब फीकी पड़ जाती …

कई कवियों और शायरों ने यादो को बड़े हि खूबसूरत ढंग से सजाया है …

मेरा मानना है , कि किसी से मोहब्बत करना आसान है , उसे ठुकरा कर चले जाना और भी आसान है , मगर उनकी यादो से छुटकारा पाना बहुत मुश्किल है … याद हवा में घुली वो महक है , जिसे हम न चाहे फिर भी हमें उसकी जरुरत है …

वैसे अपनी यादोँ को हम महसूस करे तो वो हमारा अतीत है , यानि बिता हुआ कल … हो सके वो हमारा कल सुहाना था , या फिर वो बीते हुए बुरे दिन ,, कही न कही इन यादो का गहरा सम्बन्ध हमारे मष्तिष्क से होता है , हम जितना अपने मष्तिष्क पर जोर डालते है , उतना हि हम पुरानी बीती हुई बाते महसूस करते है …