जरा सी मोहब्बत कर ले

जरा सी मोहब्बत कर ले

हम बैठे इंतजार कर रहे जरा सी मोहब्बत कर ले, हम बैठे इंतजार कर रहे हैं । ये हसीन पल कही बीत न जाए , फिर तुम मोहब्बत बीन तरस न जाए । Sabhi खंजर एक साथ मारे हाथ पकड़ा , बात की , फिर झट से गले लगा लिया !!! तीनो खंजर एक साथ मारे थे जालिम “मन” ने… मोहब्बत भी खत्म नहीं हो रही दूरिया और भी बड़ गई हमारे बीच … और कम्बखत मोहब्बत भी खत्म नहीं हो रही .. ना पूछो मेरा हाल बार बार ना…

Read More

मना कर दिया उन्हें

मना कर दिया उन्हें

दिल कुचलकर तोड़ दिया मना कर दिया उन्हें, न आओं मेरे ख्वाबों में , इश्क़ हमने छोड़ दिया और अपना दिल कुचलकर तोड़ दिया । एक चांद था अकेला था मैं, किसे आवाज देता ,, एक चांद था, वो भी दूर खड़ा था । हाँ मोहब्बत है तुमसे सुनो मन… ज्यादा कुछ बोलने की ज़रूरत नहीं है ,, सिर्फ इतना कह दो, हाँ मोहब्बत है तुमसे … कहाँ खोएं हो “मन” इश्क़ हो, और सुकून भी हो ,, कहाँ खोएं हो “मन” तुम होश में तो हो ।।। चाँद तुम…

Read More

वो अक्सर पूछा करती थी

वो अक्सर पूछा करती थी

मैं अक्सर कहा करता था वो अक्सर पूछा करती थी, क्या कर रहे हो ??? मैं अक्सर कहा करता था कुछ भी नही , सिवाय तुम्हें याद करने के … जहाँ हम अक्सर मिला करते अक्सर , घंटो ठहर कर देखता हूँ उस गली में ,, जहाँ हम अक्सर मिला करते थे, और ठहर कर घंटो बातें किया करते थे … तुमसे मोहब्बत कुछ इस तरह तुमसे मोहब्बत कुछ इस तरह थी … कि मैं बता नहीं सकता, गिना नहीं सकता, दिखा नहीं सकता । दिल के किसी कोने में…

Read More

अगर इशारों में ही बातें करनी थी

अगर इशारों में ही बातें करनी थी

अपनी आँखों को सजाते अगर इशारों में ही बातें करनी थी , तो पहले बताते । हम अपनी शायरी को नही, अपनी आँखों को सजाते !!! जब भी मैं टूटता हूँ जब भी मैं टूटता हूँ, तुम्हे ही ढूंढता हूँ । कभी तुमने ही एक बार कहा थी ना , हम एक है !!! तुमको पाकर जमाने से तुमको पाकर जमाने से खोना कौन चाहेगा । इस शहर में तन्हां होना कौन चाहेगा ।।। मुझे ज़िन्दा देख कर बोली वो मुझे ज़िन्दा देख कर बोली … “मन” बद्दुआ नही लगती…

Read More

उन झुकी निगाहों से भी चोट लगता

उन झुकी निगाहों से भी चोट लगता

देखकर भी अनदेखा कर देता उन झुकी निगाहों से भी चोट लगता है “मन” !!! जो हर बार देखकर भी अनदेखा कर देता है “मन” ।।। यूं ही चलते चलते यूं ही चलते चलते जो आवाज दी थी न तुमने… कदमों की क्या औकात, सांसे तक रुक गई थी मेरी … एसे इतवार मनाने का क्या फायदा, तुमको एसे इतवार मनाने का , जो समय ही ना मीले, मुझसे मिलने आने का… कोई दूसरी कहानी पढ़ लो कोई दूसरी कहानी पढ़ लो “मन” !!! ये वाली कहानी मे तो ,…

Read More

कितना हसीन बहाना मिला

कितना हसीन बहाना मिला

मेहंदी से भरे दोनो हाथ कितना हसीन बहाना मिला, वो मेहंदी से भरे दोनो हाथ दिखाकर बोले … जरा मेरे बालों को कानो के पीछे लगा दीजिये न … तेरा महबूब कहाँ है हम गुजरे भी तो किस गली से …?शहर की हर गली हमसे पूछती है, तेरा महबूब कहाँ है … कहानी अभी खत्म कहाँ हुई मगर कहानी अभी खत्म कहाँ हुई ? आपने तो अभी अधूरी ही सुनाए !!! हाँ, मेरी जिन्दगी भी तो अधूरी ही हैं ” तुम्हारे बिना ” … खुदा की रहमत रही खुदा की…

Read More

दिल हर रोज़ पूछता है

दिल हर रोज़ पूछता है

मैं रोज़ कहता हूँ दिल हर रोज़ पूछता है,, तेरे बारे में … मैं रोज़ कहता हूँ … बस आती होगी … तेरा मामला खुदा पर छोड़ दिया दवा से मुस्किल का हल न हुआ , तो दुआ पर छोड़ दिया …!!! तेरा मामला मैंने खुदा पर छोड़ दिया … इन्तजार में उनके खड़े इन्तजार में उनके खड़े हैं हम, उन्हें लगता मोहब्बत भुल गए हम। न जाने ये कैसी महक बस गयी है मेरे, रोम रोम में न जाने ये कैसी महक​ .. कोई भी खुश्बू मैं लगाऊं, तुम्हारी…

Read More

कल मुझे खुशी मिली थी

कल मुझे खुशी मिली थी

वह रुकी नहीं कल मुझे खुशी मिली थी । जल्दी जल्दी में थी , वह रुकी नहीं । किसी के दिल में दुनिया में रहने के लिए , एक ही सबसे अच्छी जगह है , कि किसी के दिल में रहो । मैं शून्य हूँ मैं शून्य हूँ , मुझे पीछे ही रखना मेरा फर्ज़ है सिर्फ़ तेरी किंमत बढ़ाना है तुम्हारा ज़रा सा होना भी सुनो “मन” तुम  हो धूप की तरह और मैं  हूं दिसम्बर का दिन , तुम्हारा  ज़रा सा होना भी मुझे बहुत  सुकूँ  देता है…

Read More

मैंने अपने आखो को बहुत समझाया

मैंने अपने आखो को बहुत समझाया

जब भी उसको देखता हूँ मैंने अपने आखो को बहुत समझाया कि तू इतना बहता क्यों हैं , वह बोला क्या करु जब भी उसको देखता हूँ तब खुद ही निकल जाती हैं। मैंने एक शख्स को चुना 7 अरब लोग इस संसार में , उनमें से मैंने एक शख्स को चुना , और वह भी है मुझसे खफा ।। जितनी मोहब्बत मैं करता तुमसे तुम्हारे सभी चाहने वाले मिलकर भी उतना नहीं चाह सकते हैं तुम्हें , जितनी मोहब्बत मैं अकेला करता हूं तुमसे। बारिश भी नाराज हैं बारिश…

Read More

एक तस्वीर से मेरे चेहरे पर मुस्कान आ जाती

एक तस्वीर से मेरे चेहरे पर मुस्कान आ जाती

दिन बीत गया उसके इन्तजार में जिसके एक तस्वीर से मेरे चेहरे पर मुस्कान आ जाती थीं ,, आज रोते रोते पूरा दिन बीत गया उसके इन्तजार में ।।। मोहब्बत छोड़ दी हमने तो…………..मोहब्बत छोड़ दी लेकिन महोब्बत ने हमे कहीं का नही छोड़ा.. लाख कोशिशों के बाद भी तू मेरी ज़िंदगी की किताब का वो हसीन पन्ना है , जिसे मैं लाख कोशिशों के बाद भी पलट नही पाया..!!! वह मुझसे बातें करेगी पता नहीं वह दिन कौन सा दिन होगा , जिस दिन वह मुझसे बातें करेगी ।।।…

Read More

Intezar Shayari ;- वैसे तो इंतजार करना किसी को पसंद नहीं है , मगर बात जब दिल कि आती है तब इन्तेजार करना हर किसी को पड़ता है … फिर चाहे वह कोई हो … आज के इस दौर में प्यार कब किसे और कहा हो जाए ये कहा नहीं जा सकता , और जब प्यार होता है तब तुरंत हि मिलन नहीं होता है , उसके लिए थोडा इंतज़ार , विचार सब करना पड़ता है …

यहाँ तक कि भगवानो को भी अपने प्यार के लिए इंतज़ार करना पड़ता था … शायद आप सभी को मालूम हि होगा कि जब भगवन राम और देवी सीता जब पहली बार उपवन में मिल्ले थे , उसी वक्त दोनों ने एक दूसरे से मन हि मन प्रेम कर बैठे थे … पर मिल नहीं सकते थे , और वो भी अपने अपने पूज्य प्रभु या देवी से विवाह कि विनती करने लगे थे ,,,तब वो भी अपने प्यार को पाने के लिए इंतज़ार किए थे …

मेरे विचार से जहा सच्ची मोहब्बत होती है , वहाँ हि इंतज़ार करनी होती है … और एक समय के बाद वो सफल हो जाती है … और जहा सिर्फ हुस्न ऐ सूरत से मोहब्बत होती है वहाँ रिश्ता बनने और बिगड़ने में ज्यादा समय नहीं लगती है , और फिर वो रिश्ता बिखर जाती है ………..

इंतज़ार ऐ मोहब्बत कि अहसास