आज फिर मौसम उदास हैं

कहीं वो उदास आज फिर मौसम उदास हैं , कोई पता करना कहीं वो उदास तो नहीं हैं। उसकी एक झलक जितनी खुशी मुझे सुपरस्टार लोगों से मिल कर नहीं होती , उससे कहीं ज्यादा खुशी मुझे सिर्फ उसकी एक झलक पाने…Read More »

उसने मुझसे दूर जाते वक्त यह बोल रही थी

मुझसे दूर जाते वक्त उसने मुझसे दूर जाते वक्त यह बोल रही थी , कि रोते तो सब हैं तब क्या हम सबके हो जाए। रात भर जागता हूँ रात भर जागता हूँ , एक एसे सख्श की खातिर , जिसको दिन…Read More »

उसे कहेना के तेरी याद बहुत आती

तेरी याद बहुत आती उसे कहेना के तेरी याद बहुत आती है……!! ये भी कहेना कोई ओर नहीं है मेरा…..!!!! मेरी तन्हाईयाँ फिर से लो, “शाम” हो गई.. मेरी तन्हाईयाँ फिर से तेरे नाम हो गई… मैं तो रोज़ ही सुनो मैं…Read More »

इस जगमगाते शहर में रोता हुआ इश्क

इस जगमगाते हुए शहर इस जगमगाते हुए शहर से हटकर मेरा एक अपना शहर है ”’अन्धेरो का शहर ” जहाँ सिर्फ मैं और एक तेरी यादे ही रहतीं हैं। हम मिलने को तरसते हैं खुश नसीब होते हैं बादल , जो दूर…Read More »

आज फिर तेरी गलियों के चक्कर लगा आये

तेरी एल झलक खातिर आज फिर तेरी गलियों के चक्कर लगा आये हम , आज फिर तेरी एक झलक खातिर पूरा दिन तेरी गलियों में बिता आये हम….. उसे मालूम चलेगा तब वह जब उसे मालूम चलेगा तब वह बहुत पछताएगि ,…Read More »

लोग कहते हैं कि हम मुस्कुराते बहुत हैं

हम थक गए हैं लोग कहते हैं कि हम मुस्कुराते बहुत हैं , और हम थक गए हैं अब दर्द छिपाते छिपाते । आँख खुलते ही ठीक से सुबह उठ जाने तो दिया करो ,, आँख खुलते ही याद आने लगते हो…Read More »

शरारतें करने का मन अभी भी करता

शरारतें करने का मन शरारतें करने का मन अभी भी करता है.. पता नहीं बचपना जिंदा है या इश्क अधुरा है..। तुम्हे देख कर मैं पागल नही हूँ.. बस तुम्हे देख कर . मेरे दिल का दिमाग खराब हो जाता है.. मेरी…Read More »

वो मजे में सोती थी मुझे रुलाकर

वो रोती है मेरी कबर पर आकर वो मजे में सोती थी मुझे रुलाकर , आज मैं चैन से सोया हूँ. , वो रोती है मेरी कबर पर आकर…. बेवज़ह बिछड तो गये बेवज़ह बिछड तो गये हो…. बस इतना बता दो……Read More »

ख्वाहिश थी की वो मुझे याद करे

मैंने ही उसे बेशुमार चाहा ख्वाहिश थी की वो मुझे याद करे मेरी तरह , मगर ख्वाहिश थी.. ख्वाहिश ही रह गई ….  इसमें गलती उसकी नहीं गलती मेरी थी कि मैंने ही उसे बेशुमार चाहा था। थोड़ी देर ठहर जाती तुम…Read More »

तुम्हारी खुशियों के ठिकाने बहुत होंगे

हमारी खुशियों की सबब ”तुम्हारी खुशियों के ठिकाने बहुत होंगे “ये  मेरी मन” ….. मगर हमारी खुशियों की सबब तो सिर्फ तुम ही हो …।।। तेरा मोहब्बत पर मेरा हक तेरा मोहब्बत पर मेरा हक तो नही, पर…. दिल कहता है ,…Read More »