By | 26th September 2019

KABHI SOCHA V NI TA Sad Shayari in hindi

 


कभी सोचा भी नहीं था,, कि मुझे भी इश्क़ होगा कभी ,,,,

पता नहीं तुम्हे कब देखा, और कब मुझे इश्क़ हो गया  ।


देख कर उन्हें , बार बार देखने की इच्छा जताना ,,

समझ रहा हूँ ”मन” , तुमने  इश्क़ उनसे गजब का किया किया था  …


जाओ जाओ आगें चले जाओ,,

तुमने गलत दरवाजा खटखटा दिए ।

यहाँ कोई मोहब्बत-ओहब्बत करने वाला नहीं रहता ।


जरा सी भी किसी आहट को सुन कर …

दौड़ी दौड़ी दरवाजे पर खड़ी हो गई ।

उफ्फ़ , मैं भी भूल गई …

ये तो मेरी वर्षो से आदत सी हो गई ।


क्या मोहब्बत करना चाहते हो ।

मुझें नहीं आती,

जाओ किसी और से करो …


ज़िंदगी भर के लिए रूठ गई वह मुझसे ,,

जब पुछा तो आहिस्ते से बोले, तुमने मोहब्बत किया है मुझसे !!!


MAN KI LOVE BOOK

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *