By | 26th September 2019

KABHI SOCHA V NI TA Sad Shayari in hindi

 


कभी सोचा भी नहीं था,, कि मुझे भी इश्क़ होगा कभी ,,,,

पता नहीं तुम्हे कब देखा, और कब मुझे इश्क़ हो गया  ।


देख कर उन्हें , बार बार देखने की इच्छा जताना ,,

समझ रहा हूँ ”मन” , तुमने  इश्क़ उनसे गजब का किया किया था  …


जाओ जाओ आगें चले जाओ,,

तुमने गलत दरवाजा खटखटा दिए ।

यहाँ कोई मोहब्बत-ओहब्बत करने वाला नहीं रहता ।


जरा सी भी किसी आहट को सुन कर …

दौड़ी दौड़ी दरवाजे पर खड़ी हो गई ।

उफ्फ़ , मैं भी भूल गई …

ये तो मेरी वर्षो से आदत सी हो गई ।


क्या मोहब्बत करना चाहते हो ।

मुझें नहीं आती,

जाओ किसी और से करो …


ज़िंदगी भर के लिए रूठ गई वह मुझसे ,,

जब पुछा तो आहिस्ते से बोले, तुमने मोहब्बत किया है मुझसे !!!


MAN KI LOVE BOOK

23 Replies to “KABHI SOCHA V NAHI TA Sad Shayari”

  1. DnD Game

    Heya i’m for the primary time here. I came across this board and
    I in finding It truly helpful & it helped me
    out a lot. I am hoping to offer something again and aid others such as you aided me.

    Reply
  2. judi joker123

    I’m extremely impressed with your writing abilities as well as with the layout to your weblog.
    Is that this a paid subject matter or did you
    customize it your self? Anyway keep up the excellent high quality writing, it’s
    uncommon to look a great weblog like this one nowadays..

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *