ऐसे न जाने कितने लोग होगे

Ese n jane kitne log

अपने मोहब्बत को किसी और के

ऐसे न जाने कितने लोग होगे ॰॰॰

जो अपने मोहब्बत को किसी और के होते देखे होंगे ।

और ऊपर से खुश रहते होगे ।

अपने मोहब्बत को किसी और के

मेरे नाम के साथ तेरा नाम

अखबार में हमारे प्यार की खबर पहले पन्ने पर छप गया ।
देखों
मेरे नाम के साथ तेरा नाम जुड़ गया …।

मेरे नाम के साथ तेरा नाम

आखिरी ख्वाहिश तेरी मुलाक़ात

फाँसी ए सजाये मौत मिले , और मेरी आखिरी ख्वाहिश पूछें जाएंगे ।
तो
हम हुजूर से आखिरी ख्वाहिश, तेरी मुलाक़ात मांगेंगे …

आखिरी ख्वाहिश, तेरी मुलाक़ात

याद तो हरदम सिर्फ आपकी ही

न कभी दिल ने ज़ाहिर किया, और न ही कभी उनसे इजहार किया ,,

लेकिन याद तो हरदम सिर्फ आपकी ही आती हैं …।

याद तो हरदम सिर्फ आपकी ही

आखिरी बार पूछ रहा

बस इतना बता दो , आखिरी बार पूछ रहा हूँ ।

तुम्हे मेरा होना है, या मुझे हमेशा के लिए खोना है ।

 आखिरी बार पूछ रहा

छोड कर गए थे आप

छोड कर गए थे आप , उस वक्त मैं कोई और था ।

अब मैं कोई और हूँ , जरा एक बार आ कर तो देखिए ।

छोड कर गए थे आप

Leave a Comment