By | 5th March 2019

सुषमा स्वराज Sushama Swaraj (जन्म : १४ फरवरी १९५२) एक भारतीय महिला राजनीतिज्ञ और भारत की विदेश मंत्री हैं। वे वर्ष 2009 में भारत की भारतीय जनता पार्टी द्वारा संसद में विपक्ष की नेता चुनी गयी थीं, इस नाते वे भारत की पन्द्रहवीं लोकसभा में प्रतिपक्ष की नेता रही हैं। इसके पहले भी वे केन्द्रीय मन्त्रिमण्डल में रह चुकी हैं तथा दिल्ली की मुख्यमन्त्री भी रही हैं। वे सन २००९ के लोकसभा चुनावों के लिये भाजपा के १९ सदस्यीय चुनाव-प्रचार-समिति की अध्यक्ष भी रहीं थीं।
अम्बाला छावनी में जन्मी सुषमा स्वराज ने एस॰डी॰ कालेज अम्बाला छावनी से बी॰ए॰ तथा पंजाब विश्वविद्यालय चंडीगढ़ से कानून की डिग्री ली। पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने पहले जयप्रकाश नारायण के आन्दोलन में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। आपातकाल का पुरजोर विरोध करने के बाद वे सक्रिय राजनीति से जुड़ गयीं। वर्ष 2014 में उन्हें भारत की पहली महिला विदेश मंत्री होने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है,  जबकि इसके पहले इंदिरा गांधी दो बार कार्यवाहक विदेश मंत्री रह चुकी हैं। कैबिनेट में उन्हे शामिल करके उनके कद और काबिलियत को स्वीकारा।  वे दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री और देश में किसी राजनीतिक दल की पहली महिला प्रवक्ता बनने की उपलब्धि भी उन्हीं के नाम दर्ज है।

        स्वराज कौशल सुप्रीम कोर्ट के नामचीन क्रिमिनल मामलों के वकील हैं। वे राजधानी के पेज थ्री सर्किल से हमेशा दूर रहते हैं। वह देश की प्रमुख पार्टी ‘भाजपा’ (भारतीय जनता पार्टी) की शीर्ष महिला नेत्री सुषमा स्वराज के पति हैं। हालांकि, उनकी पत्नी भाजपा की बड़ी नेता हैं, पर वे भाजपा से कोई लेना-देना नहीं रखते। कौशल महज 37 साल की उम्र में मिजोरम के गवर्नर बन गए थे। इतनी छोटी उम्र में कभी कोई किसी प्रदेश का गवर्नर नहीं बना। उनकी इस उपलब्धि ने उन्हें और भी खास बनाया है।

         दक्षिण दिल्ली संसदीय सीट से दूसरी बार 12वीं लोकसभा के लिए चुने जाने के बाद वह दूसरी वाजपेयी सरकार में सूचना और प्रसारण मंत्री बनीं और उन्हें दूरसंचार मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया।

        अपने कार्यकाल के दौरान सुषमा ने ही फिल्म निर्माण को उद्योग का दर्जा दिया, जिससे फिल्म उद्योग बैंक से वित्तपोषण के योग्य हो सका। पार्टी नेतृत्व के कहने पर वह अक्तूबर 1998 में केन्द्रीय मंत्रिमंडल छोड़ कर दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री बनीं। वह जनवरी 2003 से मई 2004 तक स्वास्थ्य, परिवार कल्याण और संसदीय मामलों की मंत्री रहीं।

देश के एडवोकेट जनरल भी रह चुके हैं कौशल

        उन्होंने ही पृथकतावादी मिजोरम और केन्द्र के बीच समझौता करवाने में अहम भूमिका निभाई थी वे समाजवादी पृष्ठभूमि से आते हैं स्वराज कौशल साल 2000 में राज्यसभा के सदस्य भी थे। कौशल काफी अध्यनशील व्यक्ति भी हैं। इमरजेंसी के दिनों में उन्होंने जॉर्ज फर्नांडीस के पक्ष में बड़ौदा डायनामाइट केस में मुकदमा लड़ा था। वे देश के एडवोकेट जनरल भी रहे। वे संगीत में भी दिलचस्पी लेते हैं।

कुशल राजनीतिज्ञ

        भारत की राजनीति में स्वराज कौशल को एक बेहतर राजनीतिज्ञ के रूप में जाना जाता है। कौशल हरियाणा से छ: साल तक राज्यसभा में सांसद रहे। वे मिजोरम में राज्यपाल भी रह चुके हैं। वे सबसे कम आयु में राज्यपाल बनने वाले व्यक्ति हैं। 13 जुलाई, सन 1975 को उनका विवाह सुषमा स्वराज के साथ संपन्न हुआ था। स्वराज कौशल और सुषमा स्वराज की उपलब्धियों का स्वर्णिम रिकॉर्ड ‘लिम्का बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड’ में दर्ज हो चुका है।

1990 में पहली बार सांसद बनीं

        सुषमा अप्रैल 1990 में सांसद बनीं और 1990-96 के दौरान राज्यसभा में रहीं। 1996 में वो 11वीं लोकसभा के लिए चुनी गईं और अटल बिहारी वाजपेयी की तेरह दिनों की सरकार में सूचना प्रसारण मंत्री बनीं। 12वीं लोकसभा के लिए वो फिर दक्षिण दिल्ली से चुनी गईं और पुन उन्हें सूचना प्रसारण मंत्रालय के अलावा दूरसंचार मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार भी दिया गया। अक्टूबर 1998 में उन्होंने केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दिया और दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री बनीं। बाद में जब विधानसभा चुनावों में पार्टी हार गई तो वे राष्ट्रीय राजनीति में लौट आईं।

सोनिया के खिलाफ लड़ा चुनाव

        1999 के लोकसभा चुनाव में सुषमा ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ बेल्लारी संसदीय क्षेत्र, कर्नाटक से चुनाव लड़ा, लेकिन वो हार गईं। 2000 में वो फिर से राज्यसभा में पहुंचीं थीं और उन्हें दोबारा सूचना-प्रसारण मंत्री बना दिया गया। सुषमा मई 2004 तक सरकार में रहीं।

उत्कृष्ट सांसद का सम्मान

        संसद के केन्द्रीय कक्ष में सम्पन्न एक गरिमामय कार्यक्रम में राष्ट्रपति श्रीमती प्रतिभा पाटिल ने भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेता और राज्य सभा सांसद सुषमा स्वराज को वर्ष 2004 के लिए ‘उत्कृष्ट सांसद सम्मान’ से अलंकृत किया था। प्रतिभा पाटिल ने सुषमा स्वराज की प्रशंसा करते हुए उन्हें राष्ट्रहित से जुड़े मुद्दों की प्रखर वक्ता बताया था। इस मौके पर सुषमा ने इस पुरस्कार के लिए पहली बार किसी महिला को चुनने के लिए चयन समिति को धन्यवाद दिया और कहा कि “यह सौभाग्य की बात है कि उन्हें यह पुरस्कार देश की पहली महिला राष्ट्रपति के हाथों मिला है।” उन्होंने कहा “मेरा क़द तो छोटा था। सहयोगियों ने यह पुरस्कार देकर मेरे क़द को और भी बड़ा कर दिया है।” इसके साथ ही सुषमा ने ईश्वर से इस पुरस्कार की मर्यादा को बनाए रखने की शक्ति प्रदान करने की कामना की और वचन दिया कि वह हर संभव प्रयास कर इस पुरस्कार का मान सम्मान बनाए रखने का प्रयास करेंगी।

प्रशस्ति पत्र

        सुषमा स्वराज को प्रशस्ति पत्र भी प्राप्त हुआ है। इनको अर्पित प्रशस्ति पत्र में कहा गया है कि- “श्रीमती सुषमा स्वराज का तीन दशकों से अधिक का उत्कृष्ट सार्वजनिक जीवन रहा है। उन्हें हरियाणा सरकार में सबसे कम उम्र की कैबिनेट मंत्री तथा दिल्ली की प्रथम महिला मुख्यमंत्री होने का गौरव प्राप्त है। एक प्रतिभाशाली वक्ता होने के साथ-साथ उन्होंने देश में संसदीय लोकतंत्र को सुदृढ़ करने में विशिष्ट योगदान दिया है।”

परिवारिक जीवन 

        1975 में सुषमा की शादी स्वराज कौशल से हुई। कौशल भी 6 साल तक राज्यसभा में सांसद रहे इसके अलावा वो मिजोरम के राज्यपाल भी रह चुके हैं। स्वराज कौशल अभी तक सबसे कम आयु में राज्यपाल का पद प्राप्त करने वाले व्यक्ति हैं। सुषमा स्वराज और उनके पति की उपलब्धियों के ये रिकॉर्ड लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज करते हुए उन्हें विशेष दंपति का स्थान दिया गया है। उनकी एक बेटी है जो वकील है।

14 Replies to “सुषमा स्वराज Sushama Swaraj”

  1. Pingback: RAM NATH KOVIND रामनाथ कोविंद | All Best Collections | दिल का किरायेदार | Hindi Shayari

  2. tinyurl.com

    Hello there! This is my 1st comment here so I just wanted to give a quick
    shout out and tell you I really enjoy reading through your posts.
    Can you recommend any other blogs/websites/forums
    that go over the same topics? Appreciate it!

    Reply
  3. with coconut oil

    I just like the helpful information you provide
    in your articles. I’ll bookmark your blog and test once more here frequently.
    I’m relatively certain I will be informed plenty of new stuff right here!

    Best of luck for the next!

    Reply
  4. plenty of fish dating site

    I was wondering if you ever considered changing the page layout of
    your blog? Its very well written; I love what youve got to say.
    But maybe you could a little more in the way of content so
    people could connect with it better. Youve got an awful lot
    of text for only having 1 or 2 images. Maybe you could space it out better?

    Reply
  5. ps4 games

    Wow, wonderful blog structure! How lengthy have you ever been blogging for?
    you made blogging glance easy. The total look of your web site is excellent,
    as neatly as the content!

    Reply
  6. quest bars cheap

    Heya terrific blog! Does running a blog similar to this require a large amount of work?
    I have virtually no expertise in computer programming however I had been hoping to start my own blog soon. Anyhow, if you have any ideas or techniques for new blog
    owners please share. I know this is off subject however I just
    wanted to ask. Cheers!

    Reply
  7. quest bars cheap

    You can certainly see your expertise in the work you write.
    The sector hopes for even more passionate writers
    like you who are not afraid to mention how they believe.
    At all times follow your heart.

    Reply
  8. ps4 games

    It’s going to be ending of mine day, however before end
    I am reading this fantastic paragraph to improve my experience.

    Reply
  9. ps4 games

    I want to to thank you for this good read!! I certainly loved every bit of it.
    I’ve got you saved as a favorite to look at new stuff you post…

    Reply
  10. quest bars cheap

    It’s really a nice and helpful piece of information. I’m happy
    that you just shared this useful info with us.
    Please stay us up to date like this. Thanks for sharing.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *