KHUDIRAM BOSE

KHUDIRAM BOSE

जन्म: 3 दिसंबर, 1889, हबीबपुर, मिदनापुर ज़िला, बंगाल मृत्यु: 11 अगस्त, 1908, मुजफ्फरपुर कार्य: भारतीय क्रन्तिकारी भारत विरो की भूमि हैं, यहाँ हर पल कई वीर जन्म लेते हैं। जिनमे से कुछ वीर बहुत कम ज़िन्दगी जी पाते हैं, मगर उन्ही कम समयों में ही बहुत कुछ बड़ा कर जाते हैं। जिन्हें हर पल सारा भारतवर्ष याद करता है। भारत के स्वाधीनता संग्राम का इतिहास महान वीरों और उनके सैकड़ों साहसिक कारनामों से भरा पड़ा है। ऐसे ही क्रांतिकारियों की सूची में एक नाम खुदीराम बोस का है। खुदीराम बोस एक भारतीय युवा…

Read More

समाज सुधारक राजा राममोहन राय

समाज सुधारक राजा राममोहन राय

            समाज सुधारक राजा राममोहन राय को भारतीय पुनर्जागरण का अग्रदूत और आधुनिक भारत का जनक कहा जाता है। भारतीय सामाजिक और धार्मिक पुनर्जागरण के क्षेत्र में उनका विशिष्ट स्थान है। वे ब्रह्म समाज के संस्थापक, भारतीय भाषायी प्रेस के प्रवर्तक, जनजागरण और सामाजिक सुधार आंदोलन के प्रणेता तथा बंगाल में नव-जागरण युग के पितामह थे। उन्होंने भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम और पत्रकारिता के कुशल संयोग से दोनों क्षेत्रों को गति प्रदान की। उनके आन्दोलनों ने जहाँ पत्रकारिता को चमक दी, वहीं उनकी पत्रकारिता ने आन्दोलनों…

Read More

एक सच्चे और ईमानदार नेता की बाते

एक सच्चे और ईमानदार नेता की बाते

एक सच्चे और ईमानदार नेता की बाते … मैं मंच पर खड़े होकर सामने बहुत बड़ी भीड़ से चीख चीख कर कह रहा था , की अगर इस बार हमारी सरकार बनेगी तो हरेक शख्श के जिंदगी में उनके हिस्से की सुकून मिलेगी … जिसमे आमदनी कम , मगर खुशिया ज्यदा होगी … किसी चीज़ के उत्पादन में मशीने कम , हाथे ज्यदा होगी … नए नए खोजे कम , बस पुरानी कलाए ताज़ा होगी … जुआरी , शराबखाने , आद्धेबजी ये सब बंद ,, बस चारो तरफ स्कूल ,…

Read More

Pandit Deendayal Upadhyay

Pandit Deendayal Upadhyay

Pandit Deendayal Upadhyay पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जन्म २५ सितम्बर,१९१६, को वर्त्तमान उत्तर प्रदेश की पवित्र ब्रजभूमि में मथुरा में नगला चंद्रभान नामक गाँव में हुआ था |  इनके बचपन में एक ज्योतिषी ने इनकी जन्मकुंडली देख कर भविष्यवाणी की थी कि आगे चलकर यह बालक एक महान विद्वान एवं विचारक   बनेगा,एक अग्रणी राजनेता और निस्वार्थ सेवाव्रती होगा मगर ये विवाह नहीं करेगा | अपने बचपन में ही दीनदयालजी को एक गहरा आघात सहना पड़ा जब सन १९३४ में बीमारी के कारण उनके भाई की असामयिक मृत्यु हो गयी|उन्होंने अपनी…

Read More

नादिया मुराद THE LAST GIRL

नादिया मुराद THE LAST GIRL

नादिया मुराद उत्तरी इराक के निनेवेह प्रांत में सीरिया की सीमा से लगे सिंजार के कोचो गांव की रहने वाली और यजीदी अल्पसंख्यक समुदाय से आने वाली नादिया को तीन साल पहले 2014 में सुन्नी कट्टरपंथी संगठन IS ने बंधक बना लिया था. उस समय मुराद की उम्र 21 वर्ष थी. IS के आतंकवादी मुराद से सेक्स स्लेव का काम लेते थे, मतलब IS के लड़ाके उनसे अपनी हवस की भूख शांत करते थे. मुराद किसी तरह IS के कब्जे से भागने में सफल रहीं और अब वह जर्मनी में…

Read More

सामाजिक व्यक्ति हमारे समाज के लिए एक आएने कि तरह होते है … जो अपने बलबूते पर समाज को सच्चाई कि राह दिखाते है .. ऐसे व्यक्ति हरवक्त समाज कि भलाई हि सोचते है … आज ऐसे व्यक्तियो कि हमारे में थोड़ी कमी हो गई है … मगर आज भी कुछ ऐसे लोग हमारे बिच मौजूद है … जिन्होंने अपने प्रभाव से तथा अपने बातो से समाज को उन्नति कि ओर ले जा रहे है …..