By | 28th February 2019


नादिया मुराद उत्तरी इराक के निनेवेह प्रांत में सीरिया की सीमा से लगे सिंजार के कोचो गांव की रहने वाली और यजीदी अल्पसंख्यक समुदाय से आने वाली नादिया को तीन साल पहले 2014 में सुन्नी कट्टरपंथी संगठन IS ने बंधक बना लिया था. उस समय मुराद की उम्र 21 वर्ष थी. IS के आतंकवादी मुराद से सेक्स स्लेव का काम लेते थे, मतलब IS के लड़ाके उनसे अपनी हवस की भूख शांत करते थे.

मुराद किसी तरह IS के कब्जे से भागने में सफल रहीं और अब वह जर्मनी में रहती हैं. पिछले सप्ताह मुराद की किताब रिलीज हुई है, जिसमें उन्होंने IS के कब्जे में रहने के दौरान अपनी दर्दनाक आपबीती बयान की है.

मुराद ने अपनी पुस्तक  THE LAST GIRL . माई स्टोरी ऑफ कैप्टिविटी एंड माई फाइट अगेंस्ट द इस्लामिक स्टेट’ में अपने साथ हुई बर्बरता का दिल दहला देने वाला वर्णन किया है.

भागते हुए पकड़े जाने पर होता था गैंगरेप

मुराद अपनी पुस्तक में बताती हैं कि उन्होंने कई बार IS के चंगुल से भागने की कोशिश की और कई बार पकड़ी गईं. जब भी वह भागते हुए पकड़ ली जातीं, उनके साथ सामूहिक बालत्कार किया जाता.

उन्होंने लिखा है, “एक बार मैं मुस्लिम महिलाओं द्वारा पहनी जानी वाली पोशाक पहनकर भागने की कोशिश की, लेकिन एक गार्ड ने मुझे पकड़ लिया. उसने मुझे मारा और छह लड़ाकों की अपनी सेंट्री को सौंप दिया. उन सभी ने मेरे साथ तब तक बलात्कार किया, जब तक मैं होशो-हवास न खो बैठी.”

वह आगे लिखती हैं कि अगले सप्ताह उन्हें छह लड़ाकों की एक अन्य सेंट्री को सौंप दिया गया. उन लड़ाकों ने भी उनके साथ लगातार बलात्कार किया और मारा पीटा भी.

इसके बाद एक IS लड़ाके को उन्हें सौंप दिया गया, जो उन्हें लेकर सीरिया चला गया.

मदद करने की जगह लोग वापस IS को सौंप देते

मुराद बताती हैं कि मोसुल में उन्हें एकबार भागने का मौका मिला. वह बागीचे की चहारदिवारी फांदने में सफल रहीं. लेकिन मोसुल की गलियों में भटकते हुए उन्हें जब समझ में नहीं आया कि क्या करें तो उन्होंने एक अनजान घर के दरवाजे की घंटी बजा दी और मदद की गुहार लगाई. हालांकि ऐसा नहीं है कि उन्हें हर बार अनजान लोगों से मदद मिली हो. उन्होंने IS के कब्जे में सेक्स स्लेव की जिंदगी बिता रही अपनी भतीजी को बताया था कि छह बार उन्होंने जिन अनजान लोगों से मदद की गुहार लगाई. लेकिन उन्होंने मुराद को वापस IS के हवाले कर दिया … मोसुल में लेकिन उनका साहसी कदम काम आया और वह किसी तरह शरणार्थी शिविर तक पहुंचने में सफल रहीं.

IS ने यजीदियों पर ढाए जुल्म

मुराद बताती हैं कि इराक और सीरिया में उन्होंने देखा कि सुन्नी मुस्लिम आम जीवन जीते रहे, जबकि यजीदियों को IS के सारे जुल्म सितम सहने पड़े. मुराद बताती हैं कि हमारे लोगों की हत्याएं होती रहीं, रेप किए जाते रहे और सुन्नी मुस्लिम जुबान बंद किए सब देखते रहे. उन्होंने कुछ नहीं किया.

उल्लेखनीय है कि इराक और सीरिया में यजीदी अल्पसंख्यक समुदाय है और मुस्लिमों के अत्याचारों का शिकार है. 2014 me isne 7000 .

यजीदी लड़कियों और महिलाओं को बंधक बना लिया था, जिसमें नादिया मुराद भी शामिल थीं. IS के लड़ाकों ने यजीदी पुरुषों और बूढ़ी महिलाओं की हत्या कर दी थी. मुराद के आठ भाई और उनकी मां की भी हत्या कर दी गई थी. IS जवान महिलाओं और लड़कियों को सेक्स के लिए बंधक बना लेते थे.

मुराद अपनी पुस्तक में लिखती हैं, “अपनी कहानी कहना कभी आसान नहीं होता. हर बार जब आप इसके बारे में कहते हैं, आप उसे मंजर को जैसे फिर से जी रहे होते हैं. कई बार ऐसा होता था कि आपके साथ लगातार सिर्फ बलात्कार होता रहता था. आपको नहीं पता होता था कि अगला कौन दरवाजा खोलेगा और आपके साथ रेप करेगा. हर आने वाला दिन और खोफनाक होता था …

वह लिखती हैं, “मेरे साथ जो कुछ बीता, मैं चाहती हूं कि ऐसी कहानी वाली मैं दुनिया की आखिरी लड़की होऊं.” ……

14 Replies to “नादिया मुराद THE LAST GIRL”

  1. Pingback: Barack obama बराक ओबामा | All Best Collections | दिल का किरायेदार | Hindi Shayari

  2. Pingback: राहुल गांधी Rahul Gandhi | All Best Collections | दिल का किरायेदार | Hindi Shayari

  3. Pingback: सुषमा स्वराज Sushama Swaraj | All Best Collections | दिल का किरायेदार | Hindi Shayari

  4. http://tinyurl.com/r9v3bpc

    Thanks on your marvelous posting! I really enjoyed reading it, you are a great author.I will remember to bookmark
    your blog and will come back in the foreseeable future.
    I want to encourage you to definitely continue your great posts,
    have a nice morning!

    Reply
  5. and coconut oil

    excellent publish, very informative. I ponder why the other specialists of this sector do not realize this.
    You should proceed your writing. I’m confident, you have a great readers’ base already!

    Reply
  6. plenty of fish dating site

    Hello there, I found your web site via Google at the same time as
    looking for a related topic, your site came up, it appears to be like good.
    I have bookmarked it in my google bookmarks.
    Hi there, simply turned into aware of your blog through Google, and found that it’s really informative.
    I am gonna be careful for brussels. I’ll appreciate in the
    event you proceed this in future. Many people will be benefited from your writing.
    Cheers!

    Reply
  7. quest bars cheap

    I think that is one of the most important info for me.
    And i’m glad studying your article. But wanna observation on few general issues, The web site taste is wonderful,
    the articles is in point of fact excellent : D. Excellent process, cheers

    Reply
  8. quest bars cheap

    Howdy! I could have sworn I’ve been to this site before but after checking through some of the post I realized it’s new to me.
    Nonetheless, I’m definitely glad I found it and I’ll be bookmarking and checking back frequently!

    Reply
  9. quest bars cheap

    Great blog you have here but I was curious about if you knew of any community forums that cover the
    same topics talked about here? I’d really love to be
    a part of group where I can get opinions from other experienced people that share the same interest.
    If you have any suggestions, please let me know.
    Many thanks!

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *