दिल में माँ-बाप के

दिल में माँ-बाप के

जब बच्चे कहते हैं

दिल में माँ-बाप के हजारों सुईया चुभ जाती हैं। जब बच्चे कहते हैं , तुमने आज  तक मेरे लिए किया ही क्या है  !!!

 जब बच्चे कहते हैं

माँ नहीं रहती तो घर खाली सा लगता

घल में चाहे कितने भी लोग क्यों न हो  । मगर माँ नहीं रहती तो घर खाली खाली सा लगता हैं  !!!

 माँ नहीं रहती तो घर खाली सा लगता

वसीयत के कागजात

माँ- बाप  के दवाई की पर्ची खो जाती हैं । मगर वसीयत के कागजात बहुत ही सम्भाल कर रखी जाती हैं।

वृद्धाश्रमों में किस की “मां”

कौन कहता है कि

कौन कहता है कि फरिश्ते स्वर्ग में बसते है . . . . कभी अपनी माँ को ध्यान से देखा है..

कौन कहता है कि

माँ बहुत खूबसूरत होती

ख़ुद को संवारने की कहाँ उसे फुर्सत होती है,,, माँ फिर भी बहुत खूबसूरत होती है……

 माँ बहुत खूबसूरत होती

माँ के ही नसीब में होती

ठन्डी रोटी अक्सर माँ के ही नसीब में होती हैं। क्योंकि वह अपने बच्चों के लिए रोटियाँ जो सेकती हैं  !!!

माँ के ही नसीब में होती

Leave a Comment