दर्द भी वही देते हैं जिन्हे हक दिया जाता

दर्द भी वही देते हैं जिन्हे हक दिया जाता

माफी माँग लिया करते

दर्द भी वही देते हैं जिन्हे हक दिया जाता हो…” वर्ना गैर तो धक्का लगने पर भी माफी माँग लिया करते हैं….!!

माफी माँग लिया करते

सुरत ही बदल जाए इस दुनिया की

जब मौलाना को मस्जिद में राम नजर आए , जब पंडित को मंदिर में रहमान नजर आए , सुरत ही बदल जाए इस दुनिया की , अगर इंसान को इंसान में इंसान नजर आए !!!

सुरत ही बदल जाए इस दुनिया की

मन में किसी के प्रति सच्ची चाहत

इंसान के मन में अगर किसी के प्रति सच्ची चाहत हो , तो वह रात के अंधेरे में भी दिख जाता है।।

 मन में किसी के प्रति सच्ची चाहत

हम उनको जवाब दे सकते

मेहनत करके हम उनको जवाब दे सकते है , जो कल तक हमको कमज़ोर बोलते थे….

हम उनको जवाब दे सकते

जहाँ पहुँचने का रास्ता नहीं

ऐसी कोई मंजिल नहीं हैं , जहाँ पहुँचने का कोई रास्ता नहीं हैं !!

 जहाँ पहुँचने का रास्ता नहीं

हम चुपचाप देख रहे है

उन्हें वहम हैं कि मुझे उनकी चालाकियां समझ नहीं आती । हम चुपचाप देख रहे है , उन्हें अपने नजरों में गिरते हुए ।

 हम चुपचाप देख रहे है

Leave a Comment