अगर ज्यादा हसने और बोलने वाला इंसान

अगर ज्यादा हसने और बोलने वाला इंसान

हसने और बोलने वाला इंसान

अगर ज्यादा हसने और बोलने वाला इंसान जब चुपचाप हो जाए । तो समझ लीजिए वह कही न कही बहुत बड़ा धोखा खाया है …

हसने और बोलने वाला इंसान

जब जरूरत बदलतीं हैं

जब जरूरत बदलतीं हैं , तो लोगों के बात करने का तरीका भी बदल जाता हैं।

जब जरूरत बदलतीं हैं

कुछ नया पाने के चक्कर में

कभी कुछ नया पाने के चक्कर में , वो मत खो देना , जो पहले से तुम्हारे पास है। ।

कुछ नया पाने के चक्कर में

कौन कौन हमारे करीब हैं

बहुत दूर तक जाना होता हैं , सिर्फ ये जानने के लिए कि कौन कौन हमारे करीब हैं ।

कौन कौन हमारे करीब हैं

हम उन्हें माफ कर देते

बदला लेने की मेरी आदत नहीं । हम उन्हें माफ करके , दिल से निकाल देते हैं । ।

  हम उन्हें माफ कर देते

मुल्क के युवाओं को धर्म के नाम पर

किसी मुल्क को बर्बाद करना है तो उस मुल्क के युवाओं को धर्म के नाम पर लड़ा दो । वह मुल्क अपने आप बर्बाद हो जाएगा ।

मुल्क के युवाओं को धर्म के नाम पर

Leave a Comment