Tag: wait love shayari

माना के मुमकिन नहीं तेरा फिर से आ जाना

तेरा फिर से आ जाना माना के मुमकिन नहीं तेरा फिर से आ जाना , पर सुना है इस दुनिया में चमत्कार बहुत होते है… एक दूसरे के साथ चले उनसे कहना शहर थोड़ी बड़ी हो गई है , एक दूसरे के…Read More »

दिल से ज्यादा महफूज जगह और कहीं नही

दिल से ज्यादा महफूज दिल से ज्यादा महफूज जगह और कहीं नही मगर,,, सबसे ज्यादा लोग लापता यही से होते है !! एक नज़र देख कर एक नज़र देख कर उसने , सौ नुक्स निकाले मुझमें। फिर भी मैं ख़ुश हूँ कि…Read More »

उसने मुझसे दूर जाते वक्त यह बोल रही थी

मुझसे दूर जाते वक्त उसने मुझसे दूर जाते वक्त यह बोल रही थी , कि रोते तो सब हैं तब क्या हम सबके हो जाए। रात भर जागता हूँ रात भर जागता हूँ , एक एसे सख्श की खातिर , जिसको दिन…Read More »

आज फिर मौसम उदास हैं

कहीं वो उदास आज फिर मौसम उदास हैं , कोई पता करना कहीं वो उदास तो नहीं हैं। उसकी एक झलक जितनी खुशी मुझे सुपरस्टार लोगों से मिल कर नहीं होती , उससे कहीं ज्यादा खुशी मुझे सिर्फ उसकी एक झलक पाने…Read More »

लोग कहते हैं कि हम मुस्कुराते बहुत हैं

हम थक गए हैं लोग कहते हैं कि हम मुस्कुराते बहुत हैं , और हम थक गए हैं अब दर्द छिपाते छिपाते । आँख खुलते ही ठीक से सुबह उठ जाने तो दिया करो ,, आँख खुलते ही याद आने लगते हो…Read More »

आज फिर तेरी गलियों के चक्कर लगा आये

तेरी एल झलक खातिर आज फिर तेरी गलियों के चक्कर लगा आये हम , आज फिर तेरी एक झलक खातिर पूरा दिन तेरी गलियों में बिता आये हम….. उसे मालूम चलेगा तब वह जब उसे मालूम चलेगा तब वह बहुत पछताएगि ,…Read More »

इस जगमगाते शहर में रोता हुआ इश्क

इस जगमगाते हुए शहर इस जगमगाते हुए शहर से हटकर मेरा एक अपना शहर है ”’अन्धेरो का शहर ” जहाँ सिर्फ मैं और एक तेरी यादे ही रहतीं हैं। हम मिलने को तरसते हैं खुश नसीब होते हैं बादल , जो दूर…Read More »

दिनो के बदलने का इंतजार किसे है

इंतजार उस दिन का मुझे दिनो के बदलने का इंतजार किसे है , उसके दिल को बदल दूँ इंतजार उस दिन का मुझे है …. तेरा इंतजार करना बाकी है तेजी से गुजर रहा यह साल । मगर पल पल अभी और…Read More »

महफिल अब सुनसान जैसी लगती हैं

तुम्हारी कमी खलती हैं महफिल अब सुनसान जैसी लगती हैं। दिल में हर वक्त तुम्हारी कमी खलती हैं। मिलने को तरसते हैं खुश नसीब होते हैं बादल , जो दूर रहकर भी ज़मीन पर बरसते हैं, . और एक बदनसीब हम हैं,…Read More »