Tag: broken heart shayari

ज़िक्र तुम्हारा ही चल रहा था

यूँ ही नहीं मुस्कुराए हम ज़िक्र तुम्हारा ही चल रहा था मन … यूँ ही नहीं मुस्कुराए हम… दिल में ही रहो दिल में ही रहो मन … बाहर गर्मी बहुत ज्यादा है। तुम सा हसीन इस जमाने मे नहीं तुम सा…Read More »

हे राधा पुकार लो हमारा नाम

कोई आवाज नहीं की हे राधा पुकार लो नाम हमारा.. _कब से हम तुम्हारे है.. कोई आवाज नहीं की.. चुपके से तुमपे दिल हारे है….!!! हे राधा बहुत ढूंढा है तुम्हें हे राधा बहुत ढूंढा है तुम्हें ख़्वाबों ख़्यालों में. पर जानते…Read More »

गरीब आदमी कि दर्द

वृद्धाश्रमों में किस की “मां” चारों तरफ “जय माता दी-जय माता दी” छाई हुई है… फिर ये वृद्धाश्रमों में किस की “मां” आई हुई है …? फुटपाथ पर सो जाता कोई चादर समझ के खींच ना ले फिर से ‘ इसलिए मैं…Read More »

दिल में माँ-बाप के

जब बच्चे कहते हैं दिल में माँ-बाप के हजारों सुईया चुभ जाती हैं। जब बच्चे कहते हैं , तुमने आज  तक मेरे लिए किया ही क्या है  !!! माँ नहीं रहती तो घर खाली सा लगता घल में चाहे कितने भी लोग…Read More »

मेरी मां तो आज तक

रोटी एक मागता हूँ दो दे देती मेरी मां तो आज तक अनपढ़ हैं । खाते समय रोटी एक मागता हूँ तो दो लाकर दे देती हैं। सन्नाटा छा गया सन्नाटा छा गया बटवारे के किस्से में । जब बुढि मां ने…Read More »

एक माँ कभी नहीं कहती

बेटा मुझे खुश रखना एक माँ कभी नहीं कहती “बेटा मुझे खुश रखना” । वो तो सिर्फ यह कहती हैं “बेटा तू जहाँ भी रहना खुश रहना” !!! माँ बाप को अपने पास रखा किसी ने व्रत रखा और किसी ने उपवास…Read More »

हम तो खुशियाँ उधार देने का कारोबार

कोई वक़्त पे लौटाता नहीं हम तो खुशियाँ उधार देने का कारोबार करते हैं , साहब कोई वक़्त पे लौटाता नहीं है इसलिए घाटे में हैं…. कितने भी महंगे जूते पहन लो आज कितने भी महंगे जूते पहन लो, लेकिन वैसी फीलिंग…Read More »

Unse bat karne me achha lagta

kuch sochna Ni padhta Unse bat karne me bahut acha lagta hai….. jinse bat karne ke lie kuch sochna Ni padhta hai….. सुनना सीख लो ये दोस्त सुनना सीख लो ये दोस्त , इस सन्सार में बोलने वाले व्यक्ति बहुत मिलेंगे, मगर…Read More »

मैं चाहता हूँ तुमसे हो बातचीत मेरी

तुमसे हो बातचीत मेरी मैं चाहता हूँ तुमसे हो बातचीत मेरी …। मगर डरता हूँ… कहीं तुम बत्तमीज न समझ लो जुबां को मेरी …!! मोहब्बत की चाहत हमने न रखी हैं , तेरे सिवा किसी और से मोहब्बत की चाहत ..,…Read More »

हम चले जागेंगे एक दिन इस दुनिया से

नींद तुझको भी नहीं आएगी हम चले जागेंगे एक दिन इस दुनिया से , तन्हा तेरे बगैर ,, मगर नींद तुझको भी नहीं आएगी किसी और की बाँहों में … इश्क है तो फिर शक कैसा इश्क है तो फिर शक कैसा…Read More »