By | November 9, 2017
Spread the love

सुख और दुःख


अचानक एक मोड़ पर सुख और दुःख की मुलाकात हो गई
दुःख ने सुख से कहा : –
तुम कितने भाग्यशाली हो ,
जो लोग तुम्हें पाने की कोशिश में लगे रहते हैं….
सुख ने मुस्कराते हुए कहा : –
भाग्यशाली मैं नहीं तुम हो…!
दुःख ने हैरानी से पूछा : – “वो कैसे?
सुख ने बड़ी ईमानदारी से जबाब  दिया : –
वो ऐसे कि तुम्हें पाकर लोग अपनों को याद करते हैं ,
लेकिन मुझे पाकर सब अपनों को भूल जाते हैं।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *