By | March 25, 2019
Spread the love

गलती उसकी नहीं

गलती उसकी नहीं हैं गलती मेरी ही है , मैंने उसे इतना चाहा कि उसे खुद पर गरुर हो गया।

गलती उसकी नहीं

रानी बनाउ या फिर महारानी

उसे बनाते वक्त  भगवान भी परेशान हो गए थे , कि इस लड़की को रानी बनाउ या फिर महारानी ।।।

रानी बनाउ या फिर महारानी

इतनी हसीन क्यों हो

हरबार मुझ पे इल्जाम लगा देती हो मोहब्बत का , कभी खुद से भी पूछा है इतनी हसीन क्यों हो ।

इतनी हसीन क्यों हो

कितनी आसानी से कह दिया

कितनी आसानी से कह दिया तुमने , कि अब तुम मुझे भूल जाओ , साफ़ साफ़ लफ़्ज़ों में कह दिया होता , बहुत जी लिए अब तुम मर जाओ।।

कितनी आसानी से कह दिया

एक खूबसूरत गुलाब है तू

जानता हूँ कि एक खूबसूरत गुलाब है तू,
दिल की कलम से लिखी हसीं किताब है तू,
खुदा ने फेरी है तुझ पर जादू की कोई छड़ी,
खुली आँखों से दिखने वाला ख्वाब है तू,
चाँद से बस एक बार धरा पर आकर तो देखो,
मेरे लफ्जों में अपनी रूह को डुबा के तो देखो,
मेरे लिए तो जमीं पर उतरा माहताब है तू,
जानता हूँ कि एक खूबसूरत गुलाब है तू,
खुली आँखों से दिखने वाला ख्वाब है तू”

एक खूबसूरत गुलाब है तू,

my lovely post & also you

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *