By | December 2, 2018
Spread the love

ईश्वर से तुम्हारी सलामती की दुआ


सुनो,
तुम क्यों नहीं अपना ख्याल रखती।

जबकि तुम्हें मालूम है न ,

अगर जरा सा भी तुम्हें कुछ हो जाता हैं

तो मैं कितना घबरा जाता हूँ।
मेरे पास तुम्हारा ख्याल रखने के लिए कुछ भी नहीं है।
मगर हा ,

ईश्वर से तुम्हारी सलामती की दुआ हरदम करता हूँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *